Hot Mom Sex Kahani – जवान लड़की ने मम्मी की सेक्स वीडियो देखी

| By admin | Filed in: Hindi Stories.
हॉट मॉम सेक्स कहानी में पढ़ें कि जवान बेटी ने पहले अपने मम्मी पापा, पड़ोसी के साथ फिर मम्मी की चुदाई वीडियो देखी. मामी का सेक्स देख लड़की गर्म हो गयी.

दोस्तो, मेरी इस कहानी के पिछले भाग
माशूका की जवान बेटी ने हमें देख लिया
में आपने पढ़ा कि शीना अपनी हॉट मॉम सेक्स वीडियो देखने मेरे घर आ गयी थी.
उसने मुझे दूसरे रूम में भेज दिया, मैंने रूम में जाकर लैपटॉप ऑन किया.

मैंने देखा कि शीना अपनी हॉट मॉम सेक्स वीडियो बहुत ध्यान से देख रही थी.

अब उस दस मिनट के वीडियो में क्या था, यह मैं आप लोगों को बताता हूं:

वीडियो के शुरू में नीरू घुटनों तक की गुलाबी नाइटी पहन कर बेड पर लेटी हुई कोई किताब पढ़ रही है.

थोड़ी देर बाद मोहन आता है और नीरू के पास बैठ कर उसकी जांघों पर हाथ फेरने लगता है.
नीरू उसका हाथ झटक देती हुई बोलती है- आपसे कुछ होता तो है नहीं, अपना काम कर के मुझे आधे में तड़पता छोड़ देते हो.

इस पर मोहन अपनी शॉर्ट्स में से अपना चार इंच का लन्ड निकाल कर नीरू के हाथ में दे देता है.
लन्ड की मोटाई भी ठीक ठाक ही थी.
तो नीरू बोलती है- क्या करूँ इस खिलौने का … मुझे ये कभी संतुष्ट तो कर नहीं सका.
मोहन बोलता- आज मैं तुझे पक्का संतुष्ट करूँगा.

ये सुन कर नीरू में भी चुदास जाग जाती है. वो मोहन के लन्ड को चूम कर चूसने लगती है.

इधर मैं लैपटॉप पर शीना के हावभाव देख रहा था.
मैंने देखा शीना को अपनी माँ को इस तरह लन्ड चूसते देख कर घिन आ गयी.

फिर मोहन ने नीरू को नंगी किया कुछ देर उसकी चूमा चाटी की.
इससे नीरू की चुदास बढ़ गयी.

फिर मोहन ने उसकी टांगें चौड़ी की और नीरू की चूत में लन्ड पेल दिया.
आठ दस धक्के मारने के बाद उसका पानी निकल गया, नीरू फिर प्यासी रह गयी.

मोहन नीरू के बगल में लेटकर जोर जोर से सांस लेने लगा और नीरू को सॉरी बोल कर सो गया.
नीरू की आंखों में आंसू आ गए और वो रोती हुई अपनी चूत में उंगली करके अपने आपको शांत करने लगी.

और वीडियो खत्म हो गया.

यह देख कर शीना की आंखें भी भर आयी.
आखिर वो भी बीस साल की है और शायद वो भी सब समझती है.

अब बारी थी मेरे और नीरू के चुदाई के वीडियो की.
शीना ने अब हमारे वाला वीडियो देखना शुरू किया.

उसने देखा कि उसकी माँ पूरी नंगी होकर मेरा लन्ड अंडरवियर से बाहर निकालती है.
जब शीना ने मेरा लन्ड देखा तो उसकी आंखें फट गई.

वीडियो में हम हर आसन में चुदाई कर रहे थे. जिसे देखकर शीना अपनी चूत में हाथ फेरने लगी.

मैं ये सब लैपटॉप पर देख रहा था.
मैंने सोचा कि यह सही समय है शीना पर हाथ साफ करने का!

तो मैं चुपके से उसके पास आया.
मुझे देख कर उसका रंग उड़ गया, उसने जल्दी से अपने कपड़े ठीक किये और फ़ोन रख कर खड़ी हो गयी.

मैं- क्या हुआ शीना, तुम्हें ऐसी में भी पसीने क्यों आ रहे हैं? और ये तुम क्या कर रही थी?
शीना- क क कुछ नहीं … मैंने क्या करना?

मैंने उसे बैठने को बोला और खुद भी उसके पास बैठ गया.

मैं- देख लिया वीडियो?
शीना- हां देख लिए.

मैं- देख लिए … मतलब? कितने वीडियो देखें तुमने?
यह बोलते हुए मैंने उसकी जांघों पर हाथ रख दिया.

उसने मेरी तरफ देखा पर मेरा हाथ नहीं हटाया.

शीना- अंकल सॉरी, मैंने आप और अपनी हॉट मॉम सेक्स वाला वीडियो भी देख लिया।

मैं- कोई बात नहीं, ये भी अच्छा ही हुआ.
मैंने शीना की गोरी मांसल जांघों पर हाथ फेरते हुए कहा.

शीना- क्या अच्छा हुआ अंकल?
मैं- यही कि अब शायद तुम्हें पता लग गया होगा कि इस सब में मेरी और तुम्हारी माँ की कोई गलती नहीं है.

शीना- वो बात तो ठीक है. पर मम्मी एक सेक्स के लिए ऐसे कैसे अपने आप को किसी और के हवाले कर सकती है, मेरा मतलब आपके हवाले?

मैं- देखो बेटा, ये बात तुम्हारी माँ में ही नहीं, दुनिया की हर ऐसी औरत में होती है, जिसकी सेक्स के मामले में संतुष्टि उसका पति नहीं कर पाता. तुम्हारी माँ का भी यही हाल हुआ जो तुमने वीडियो में देख ही लिया. फिर मैंने कैसे तुम्हारी माँ को संतुष्ट करके मजा दिया, वो भी तुमने देख लिया.

शीना- तो फिर मम्मी आपके पास ही क्यों आयी, वो पापा का इलाज भी तो करवा सकती थी.

मैं- बेटा, तुम्हारी माँ ने तुम्हारे पापा को बहुत बात इलाज करवाने को बोला. पर तुम्हारे पापा तुम्हारी माँ पर ही गन्दे इल्ज़ाम लगाने लगे और उन पर शक करने लगे. और रही बात तुम्हारी माँ और मेरे मिलने की … तो एक दिन तुम्हारी माँ और पापा दोपहर में सेक्स करने के बाद आपस में बात कर रहे थे तो इतने में मैं आ गया और उनकी सारी बातें सुन ली. तुम्हारी माँ ने मुझे उनकी बातें सुनते देख लिया. कुछ देर बाद मैं चला गया. फिर तुम्हारी माँ ने मुझे घर बुलाया और सारी बात बताई, वीडियो भी दिखाया. मुझे तुम्हारी माँ पर बहुत तरस आया, उसने मेरे साथ सेक्स करने की रिक्वेस्ट की और उस दिन से हमारे बीच शारीरिक संबंध बने हुए हैं.

शीना की आंखों में अपनी माँ की हालत सुन कर आंसू आ गए.
अपने दोनों हाथों में मेरे हाथ लेकर वो बोली- सॉरी अंकल, मैंने आप को गलत समझा, असल में तो आप ने ही मम्मी को जिस्मानी सुख दिया है.

मैंने शीना को सोफे पर बिठाया और बोला- कोई बात नहीं शीना, सॉरी बोलने की कोई जरूरत नहीं है. अब हम दो नहीं तीन दोस्त बन गए.
यह बोलते हुए मैं शीना की जांघों पर हाथ फेरने लगा.

शीना मेरी तरफ देख रही थी मगर कुछ बोल नहीं रही थी.

अब मैंने धीरे धीरे अपना हाथ उसकी गोरी मखमली जांघों पर फेरते हुए उसकी चूत की तरफ बढ़ाया तो शीना ने अपनी आंखें बंद कर ली.

फिर मैंने उसकी कच्छी के ऊपर से उसकी चूत पर जैसे ही अपनी उंगली फेरी उसे जैसे होश आया हो और वो मेरा हाथ झटक कर खड़ी हुई औऱ दरवाजा खोल कर भाग गई.
और मेरी डर के मारे गांड फट गई.

मेरे मन में ख्याल आने लगे कि अगर इसने अपनी माँ को बताया तो क्या होगा.
और अगर मेरी बीवी को बता दिया तो मेरा तो तलाक ही समझो.

इसी उधेड़बुन में मैंने सिगरेट जलाई और दरवाजा बंद करने जाने लगा.
मुझे सिगरेट भी अच्छी नहीं लग रही थी.

मैंने फ्रिज से एक बियर निकाली और बोतल से ही मुंह लगा कर पीने लगा.

दो तीन सिप लेने के बाद घर की बैल बजी, मैंने दरवाजा खोला तो सामने शीना खड़ी थी, उसकी टांगें अभी भी कांप रही थी.

मैं बोला- देखो शीना, मेरी ऐसी कोई मंशा नहीं थी. ये सब गलती से हो गया।
शीना- वो वो … मेरा फोन रह गया था प्लीज वो दे दो.

मैं- ओह … तुम बैठो मैं लेकर आता हूं.
शीना- नहीं आप ले आओ. मैं यही ठीक हूँ.

शीना थोड़ा और अंदर आकर दरवाजे के पास खड़ी हो गयी.

मैंने शीना को फ़ोन लाकर दिया और बोला- शीना सॉरी, दरअसल तुम हो ही इतनी हॉट तो तुम्हें देखकर मेरे कदम बहक गए थे, आई एम रियली सॉरी.

शीना- कोई बात नहीं, मैं समझ सकती हूं.

वह अपना फोन लेकर बाहर निकल गयी.

मैं दरवाजा बंद करने लगा तो शीना एकदम से दरवाजा खोलकर वापिस आयी और मुझे अपनी बांहों में भर लिया.

इस पर मैं बिल्कुल हैरान हो गया, मुझे अपनी किस्मत पर विशवास नहीं हो रहा था.

शीना मुझे बोली- ओह अंकल लव मी!
मैं जान गया था कि लड़की गर्म हो गयी है और इसकी चुदास बढ़ गयी है.

फिर भी मैं जानबूझकर बोला- शीना, तुम्हें क्या हो गया? ये ठीक बात नहीं है.

शीना- मुझे नहीं पता अंकल, पर मैं आज ये एक्सपीरियंस लेना चाहती हूं.
मैं- वो तो ठीक है शीना, अगर ये बात किसी को पता चल गई तो?

शीना- कौन बताएगा अंकल, क्या आप बताओगे किसी को?
उसकी ये बात सुन कर मैं निरुतर हो गया और मैंने दरवाजा बंद कर के उसे गोद में उठाया और बेडरूम में ले गया, उसे बेड पर लिटा दिया.

शीना- ओह अंकल … मुझे आज वो सुख दो जो आप मम्मी और आंटी को देते आये हो. मैं प्रॉमिस करती हूं कि ये बात सिर्फ हमारे बीच ही रहेगी.

मैं- वो बात तो ठीक है शीना, पर क्या तुमने पहले कभी सेक्स किया है किसी के साथ?
शीना- मम्मी कसम … अंकल मैंने आज तक ऐसा कुछ नहीं किया, पर मैं इसके बारे सब जानती हूं.

मैं- क्योंकि ये तुम्हारा पहली बार होगा तो तुम्हें थोड़ा दर्द होगा, ये बात तो तुम जानती होगी, क्योंकि आज तुम्हारी सील टूटेगी, खून भी निकलेगा.

शीना- मैं सब जानती हूं अंकल. बस आज आप मेरे साथ सेक्स करो जो मुझे हमेशा याद रहे. मैं आप और मम्मी की सेक्स वीडियो देख कर पागल हो गयी हूँ. मेरी तकरीबन सब सहेलियों ने सेक्स कर लिया है. वे मुझे अपने सेक्स के बारे बताती हैं तो मेरी पेंटी गीली हो जाती है. पर आज तक किसी के साथ करने की हिम्मत नहीं हुई.

मैं शीना की बात सुन कर खुश हो गया और मन ही मन अपनी किस्मत पर नाज़ करने लगा कि आह आज शादी के बाद पहली बार किसी कुंवारी लड़की की सील तोड़ने को मिलेगी.

मैं- तो ठीक है शीना, मैं भी पूरी कोशिश करूंगा कि तुम्हें कोई तकलीफ न हो.

फिर मैंने अपनी बियर खत्म की और शीना को बेड से उठाया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूमने लगा.

मेरा लन्ड लोअर में खड़ा हो रहा था और उसके पेट से टकरा रहा था.

शीना ने भी अपने बदन को मेरे लन्ड पर दबाते हुए अपनी सहमति दर्शायी.

फिर मैं उसकी पीछे से स्कर्ट उठा कर उसकी कच्छी में हाथ देकर उसके चूतड़ मसलने लगा.
शीना की आंखें चुदास के कारण लाल हो गयी थी.

उसने मस्ती में आकर अपने चूचे मेरी छाती में गड़ा दिए.

फिर मैं पीछे हट गया और शीना को ऊपर से नीचे देखने लगा जिससे शीना शरमा गयी और अपनी आंखें नीचे कर ली.

मैंने उसकी स्कर्ट के हुक्स खोले और स्कर्ट नीचे करने लगा तो शीना झूठा विरोध करने लगी.

पर मेरी ताकत के आगे शीना का विरोध कमजोर पड़ गया, मैंने एक झटके में शीना के बदन से स्कर्ट को अलग कर दिया.

फिर मैंने उसकी शर्ट को भी निकाल दिया.

आह ब्लैक नेट वाली ब्रा और पेंटी में क्या लग रहा था उसका बदन!
मैंने उसकी केले के पेड़ के तने जैसी चिकनी जांघों और टांगों पर हाथ फेरा.

फिर मैंने उसकी ब्रा में हाथ डाला और उसके मम्में दबाने लगा. मैं उसके निप्पल को अपने अंगूठे और उंगली से मसलने लगा.
शीना के मम्में उसकी माँ से छोटे थे पर कड़क थे, और उसकी ब्रा से आधे से ज्यादा बाहर निकले हुए थे.

फिर मैंने उसकी पैंटी में हाथ डाला तो मुझे महसूस हुआ कि उसकी चूत बिल्कुल चिकनी और क्लीन शेव्ड थी.
लगता था कि उसने आज ही अपनी चूत के बाल रिमूव किये थे.

मैंने शीना की चूत पर हाथ फेरा और शीना से कहा- वाह शीना ,तुम भी अपनी माँ की तरह अपनी चूत की पूरी सफाई रखती हो.
मेरे मुंह से चूत शब्द सुन कर शीना शर्मा गयी और अपने हाथों से अपना चेहरा ढक लिया.

मैंने उसके चेहरे से हाथ हटाये और उसके गुलाबी होठों के रसपान करने लगा.

अब शायद शीना की भी चुदास बढ़ने लगी थी, वो भी मेरे होठों को पूरी शिदत से चूस रही थी.

फिर उसने अपना एक हाथ मेरे लोअर के ऊपर से ही लन्ड पर रख दिया और उसे सहलाने लगी और मैं उसे चूमते हुए उसकी गांड सहला रहा था.

तभी शीना मुझसे अलग हुई और बोली- अंकल, अपना लोअर निकालो, मैंने आपका वो देखना है.
मैंने पूछा- क्या देखना है?

तो उसने मेरा लन्ड पकड़ कर बोला- ये देखना है.
मैं बोला- देखो शीना, अगर तुमने चुदाई का पूरा मजा लेना है तो इसे इसके नाम से पुकारो. इसे लन्ड बोलते हैं.

फिर मैंने उसकी कच्छी में हाथ डाल कर उसकी चूत पर फेरते हुए बताया- इसे चूत बोलते हैं. और रही लन्ड देखने की बात तो तुम खुद ही देख लो.

यह बोल कर मैं सोफे पर बैठ गया.

शीना मेरा लोअर और अंडरवियर निकालने लगी.
मैंने अपनी गांड सोफे से थोड़ी ऊपर उठायी तो शीना ने मेरे दोनों कपड़े एक साथ मेरी जांघों तक सरका दिए.

मेरा लन्ड तन कर बिल्कुल मूसल हुआ पड़ा था जिसे देख कर शीना की आंखों के साथ साथ उसकी गांड भी फट गई.

मैंने पूछा- क्या हुआ? छुओगी नहीं इसको?
शीना- अंकल, आप का लन्ड तो बहुत लम्बा और मोटा है. ये तो मेरी चूत के अंदर जाते ही मेरी जान निकाल देगा.

मुझे उम्मीद नहीं थी कि शीना एक बार में ही चूत और लन्ड जैसे शब्द बोलना शुरू कर देगी. पर मुझे उसके मुंह से ये सब सुन कर बहुत मजा आया।

मैं- ऐसा कुछ नहीं होगा डियर, जब तुम इसे प्यार करोगी तो ये बिल्कुल तुम्हारा हो जायेगा और तुम्हें बिल्कुल तकलीफ नहीं देगा।
शीना- फिर भी अंकल, आप बस आराम से करना, मेरी चूत बिल्कुल कोरी है।

“तुम बिल्कुल चिंता मत करो. मैं तुम्हारा पूरा ख्याल रखूंगा.” यह बोल कर मैंने शीना की ब्रा उतारी.
ओह … उसके भी एक मम्मे पर उसकी माँ की तरह एक मोटा तिल था.

मैंने कुछ देर उसके दोनों मम्में चूसे और मसले तो शीना इसश्ह आह ओह करने लगी.

फिर मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और मैं खुद भी पूरा नंगा हो गया.

शीना मुझे नंगा देख कर मुस्कुराई और अपना मुंह दूसरी और घुमा लिया.
फिर मैं उसके पास जाकर लेट गया और उसके चेहरे को अपनी तरफ कर के उसके होंठों को चूमने लगा.

मैंने अपनी जीभ उसकी जीभ से मिलाई तो वो भी मेरी जीभ को चूसने लगी.
तो मैंने उसे पूछा- ऐसा करना तुमने कहाँ से सीखा?
वो बोली- आप भी पूरे बुद्धू हो अंकल! आपकी और मम्मी की वीडियो में देखा था. क्या भूल गए आप?

मैं- बस शीना, मैं यही चाहता हूं कि अगर तुमने चुदाई का पूरा मजा लेना है तो सब खुल कर करना होगा. तुम कुछ भी बोलने करने से शर्माना मत!
ये बोलते हुए मैं शीना के मम्में सहला रहा था, उसके निपल्स को मसल रहा था.

शीना- ससश आह उफ्फ आह … आप बस मुझे मजा दो. मैं पूरी कोशिश करूँगी कि मैं सब कुछ खुल कर करूँ.

वो आगे बोली- पर अंकल, मुझे एक बात पूछनी थी कि जो मम्मी और पापा की वीडियो है, उसमें मम्मी की चूत पर कितने बाल थे. पर आप और मम्मी की दोनों वीडियो में मम्मी की चूत बिल्कुल नीट एंड वलीन और आप के भी लन्ड पर भी अभी की तरह वीडियो में भी एक भी बाल नहीं. ऐसा क्यों, क्या मम्मी पहले अपनी चूत की सफाई नहीं रखती थी क्या?

मैं- तुमने ठीक समझा. तुम्हारी माँ को जब मैं पहली बार चोदने लगा तब भी उसकी चूत पर बहुत बाल थे. फिर मैंने उसे बोला कि मुझे बिल्कुल चिकनी चूत पसंद है तो वो बोली कि पहले मैं अपनी चूत की बहुत सफाई रखती थी पर जबसे मेरी प्यास अधूरी रहनी शुरू हुई तो मेरा ये सब करने का मन नहीं करता था. फिर मैंने उसे कहा कि अब हमारे बीच जिस्मानी रिश्ता बनने लगा है तो आज से तुम मेरे लिए अपनी चूत को बिल्कुल साफ सुथरी और चिकनी करके रखोगी. तबसे तुम्हारी माँ अपनी चूत को साफ और चिकनी रखने लगी.

शीना से बातें करते हुए मैं उसकी जांघों को सहलाता जा रहा था.

फिर मैंने शीना को खड़ा किया और उसकी दोनों टांगें थोड़ी चौड़ी की और उसकी उसकी चूत को कच्छी के ऊपर से ही चाटने लगा.
शीना उह उह आह सी…सी करने लगी.

उसने अपने हाथों से मेरा सिर अपनी चूत पर दबा लिया और अपनी चूत को ऊपर नीचे कर के मेरे मुंह पर रगड़ने लगी.

और कुछ ही देर में मुझे मेरे होंठों पर कुछ गीला गीला महसूस हुआ तो मैंने देखा शीना झड़ चुकी थी और उसकी कच्छी चूत की जगह से गीली हो गयी थी.

शीना जोर जोर से सांस ले रही थी जिससे उसके चूचे ऊपर नीचे हो रहे थे.
मैंने शीना को दोबारा पीठ के बल बेड पर लिटा दिया और खुद उसकी बगल में लेट कर उसके होंठ चूसने लगा.

मेरे पास बहुत टाइम था, घर में हमारे अलावा कोई नहीं था तो मैं कोई भी जल्दबाजी नहीं करना चाहता था.

मैंने शीना की कुंवारी बुर कैसे फाड़ी, मैं आप को अपनी हॉट मॉम सेक्स वीडियो कहानी के अगले भाग में बताऊंगा।
[email protected]

हॉट मॉम सेक्स कहानी जारी रहेगी.

Source:

নতুন ভিডিও গল্প!


Tags: , ,

Comments