भूमि का भूमि पूजन – Hot Sex Story

February 22, 2021 | By admin | Filed in: Hindi Stories.

[Dear reader, a good reader is a good writer. If you have any such experience, be sure to share it with everyone. This site is open to everyone to write. Click here to post your life story or experience.]

Bhoomi ka bhoomi pujan

हैल्लो दोस्तों, यह कुछ ही दिन पहले की बात है. में बेलापुर स्टेशन पर बैठा था और तभी करीब रात के 10 बज रहे थे. में उधर वड़ा-पाव खाते हुए अपने बाज़ू में बैठी एक सेक्सी लड़की को देख रहा था, वो अपने हाथों से संतरा छीलकर खा रही थी. अब मेरा दिल तो कर रहा था कि में उसी तरह उसके संतरे भी खा जाऊं, क्या रसीले 32 साईज के बूब्स थे उसके? उसकी कमर 28 साईज की थी और गांड 36 साईज की थी, मानो लंड उसमें खो ही जाए, वो इतनी गोरी थी कि दूध भी उसके सामने कुछ नहीं है.

उस दिन रविवार होने की वजह से स्टेशन पर बहुत कम लोग थे और आखरी हिस्से में बैठने की वजह से और वो एरिया भी खाली था. अब इस माहौल का फायदा उठाते हुए मैंने उस लड़की से बात करने की कोशिश की और बड़ी हिम्मत के बाद पता चला कि उसका बॉयफ्रेंड आने वाला था इसलिए वो यहाँ उसका इंतज़ार कर रही है. अब यह बात सुनकर मानो में बड़ा जल रहा था.

फिर बातों-बातों में पता चला कि उसका नाम भूमि है, हाय क्या नाम है उसका? भूमि पूजन करने के बाद क्या मज़ा आएगा? अब इस बात से में मन ही मन खुश हो रहा था. भूमि ने अपने साथ बहुत सारे बैग संभाले हुए थे. फिर मेरे पूछने पर उसने कहा कि उसके घर पर उसके पेरेंट्स नहीं है इसलिए वो हफ्ते की शॉपिंग करके लौट रही है.

अब यही सही मौका था और सोचकर मैंने उससे कहा कि दीदी में आपकी मदद कर देता हूँ, वैसे भी आपके पास बहुत सामान है. अब दीदी बोलकर मैंने उसका भरोसा जीत लिया था, जिससे वो मान गई थी. अब क्या था? आज रात तो भूमि की भूमि पूजन हो कर ही रहेगा. अब ट्रेन 20 मिनट लेट थी और उसका बॉयफ्रेंड भी नहीं पहुँच पाया था. अब रात के 10:30 बज चुके थे और अब ट्रेन में उसका चेहरा मायूस हो चुका था और वो ठंड से काँप भी रही थी. अब ऐसे लग रहा था जैसे वो बहुत उदास है.

फिर मैंने जानना चाहा तो उसने सीधे कहा कि वो उदास नहीं है बस ठंड से काँप रही है. फिर मैंने उसका मूड फ्रेश करने के लिए उससे उसके बॉयफ्रेंड के बारे में सवाल करना शुरू किया. तब उसने मुझसे पूछा कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या? तो मैंने कहा कि भूमि दीदी क्यों ग़रीब का मज़ाक उड़ा रही हो? कौन मेरे जैसे बदसूरत को पसंद करेगी. फिर उसने कहा कि तुमको कौन लड़की पसंद नहीं करेगी, तुम इतने हेल्पफुल हो और अंजान लोगों की भी मदद करते हो इससे बेहतर किसी लड़की को क्या चाहिए? फिर मैंने कहा कि दीदी यह सिर्फ़ बोलने की बातें है, किसी भी लड़की को मुझमें ऐसी बात कैसे दिख सकती है? छोड़ो फ़िज़ूल की बातें. अब इस बात से भूमि नाराज़ हो गई और कहने लगी कि में क्या तुम्हें आदमी नज़र आती हूँ? में भी तो लड़की हूँ.

फिर मैंने इस मौके का फायदा उठाया और कहा कि आप मेरी गर्लफ्रेंड बनेंगी क्या? नहीं ना और आपके बॉयफ्रेंड भी है, उसको आप क्यों धोखा देगी? अब मेरे यह कहते ही वो रोने लग गई और फिर हम दोनों का स्टॉप खानदेश्वर आ गया. अब ट्रेन से उतरते ही मैंने उससे माफी माँगी और वो बात भूलने को कहा.

तब उसने मुझे बताया कि उसका बॉयफ्रेंड एक नंबर का जुआरी है और उसने कई बार जुए में हारने की वजह से भूमि का सौदा भी किया था और उसे अपने दोस्तों की रंडी बनाए रखा था. अब यह बात सुनकर मुझे बहुत गुस्सा आ गया था और अब मेरा मन कर रहा था कि उसके बॉयफ्रेंड को उधर ही जैल भिजवा दूँ और अब मैंने मेरे मन में से उसे चोदने का ख्याल भी निकाल दिया था. तभी उसने कहा कि रोहन क्या तुम इस रंडी को अपनी गर्लफ्रेंड बनाकर रख सकते हो? अब में रोज़ किसी का निवाला बनकर बहुत थक गई हूँ, प्लीज मुझे संभाल लो.

अब यह बात सुनकर मेरा मन कर रहा था कि इतनी खूबसूरत लड़की को में दरिंदो के बीच तो नहीं छोड़ सकता और उसके पास तो उसके बॉयफ्रेंड के दोस्तों से चुदवाने के अलावा कोई चारा भी नहीं है, क्योंकि उसके पेरेंट्स भी इन बातों से सहमत है. अब में भूमि को रात के 11 बजे उसके घर तक पहुँचाकर में निकल रहा था. तभी उसने मुझे रोक लिया और कहने लगी कि आज रात मेरे साथ रुक जाओ में बहुत अकेली हूँ और आज कोई दरिन्दा अपनी हवस पूरी करने नहीं आने वाला है, प्लीज मेरे साथ रुक जाओ.

अब मुझे उस पर बहुत तरस आ रहा था, लेकिन में क्या करता? अब मेरी भी पेंट में एक 7 इंच का लंड है जो उसकी बातों से फूँकारे मार रहा था. फिर में भूमि की बात मान गया और अपने घर कॉल करके कहा कि आज कॉलेज की पढाई के लिए में अपने दोस्त के घर पर रुकने वाला हूँ.

दोस्तों मेरे लंड ने आज तक कोई चूत नहीं देखी थी, यह मेरा फर्स्ट टाईम था. फिर भूमि ने मुझे अपने घर पर शॉवर लेने को कहा और मेरे लिए डिनर तैयार करके वो एक मिनी नाइटी में मेरे सामने आई. अब में तो मानो जन्नत में था और अपने आप पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था. फिर भूमि ने कहा कि रोहन में कैसी लग रही हूँ? तो मैंने कहा कि दीदी आप एक नंबर लग रही हो. फिर भूमि ने कहा कि कमीने अपनी गर्लफ्रेंड को दीदी बोलता है चल अब में तुझसे बात नहीं करती.

मैंने बोला कि भूमि मेरी जान में तुझे प्यार से बोल रहा हूँ ऐसा ना कर, आज तो तेरा यह भाई बहनचोद बनने जा रहा है. फिर उसने कहा कि अच्छा मेरे भाई तो फिर उस्ताद तो बैठे रह जाएगें. अब उसके यह कहने से मुझमें जोश आ गया था और फिर मैंने उसके लिप लॉक करते हुए उसकी नाइटी उठाकर उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाना शुरू कर दिया. अब वो आआहह आअहह की सिसकारियां ले रही थी और अब मेरे टावल में तंबू बन रहा था. फिर भूमि ने मेरे टावल को नीचे गिरा दिया, तो अब में पूरा नंगा हो गया.

फिर किस पूरा होते ही में भूमि की ब्रा निकालकर उसके बूब्स चूसने लगा और उन पर अपने लव बाइट्स देते हुए काटने लगा. अब भूमि ने मेरे बाल कस कर पकड़े हुए थे और मेरे लंड को अपनी मुट्ठी की गिरफ़्त में कर रही थी, उसके जिस्म की गर्मी मानो ऐसी थी जैसे कोई हीटर चालू हो. अब वो मेरी हरकतों से तड़प रही थी.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

धीरे-धीरे जब मैंने उसकी पेंटी उतारकर उसकी झाटों से भरी चूत के दर्शन किए तो तब मेरा लंड और भी कड़क हो गया. अब में उसकी चूत को ऐसे खा रहा था जैसे मानो आज के बाद मुझे चूत कभी दिखेगी ही नहीं. अब भूमि जोर-जोर से चिल्ला रही थी, रोहन आज मेरी चूत को ख़त्म कर दो, मुझे अपनी रंडी बनाकर हमेशा के लिए रख ले, में कैसे कैसे लोगों से चुदी हूँ? अब मुझे हमेशा के लिए तू ही चोद, फाड़ दे मेरी चूत को. फिर थोड़ी देर के बाद भूमि ने अपना सारा माल मेरे मुँह पर गिरा दिया, जिसे मैंने बड़े मज़े से पी लिया क्या नमकीन रस था उसकी चूत का? अब मुझे अमृत भी उसके सामने फीका लग रहा था.

फिर भूमि के झड़ जाने के बाद मैंने अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया. मैंने सुना था कि चूत में लंड आसानी से नहीं जाता है, फिर मुझे याद आया कि भूमि वर्जिन नहीं है, वर्जिन तो में हूँ. अब उसकी चूत इतनी ज़्यादा गर्म थी कि मेरा लंड उसकी चूत में जल रहा था, अब में तड़पकर बेहाल था. फिर कुछ देर तक उसकी गर्मी सहन करने के बाद मैंने भूमि को झटके देने शुरू किए. अब भूमि चिल्लाने लगी थी, अब उसके मुँह से अया आह्ह्ह्ह और ज़ोर से चोदो की आवाज़े आ रही थी.

अब उसकी आवाज़ सुनकर मुझे और जोश आ रहा था. फिर मैंने अपनी रफ़्तार तेज़ की और पूरे जोश के साथ झटके मारता रहा. अब करीब रात के 1 बज रहे थे और में पिछले 1 घंटे से भूमि को शॉट लगाते जा रहा था और अब तक में एक बार भी नहीं झड़ा था. इस दौरान वो तीन बार झड़ चुकी थी, अब उसकी हालत खराब हो गई थी और अब वो नींद में ही मेरा साथ दे रही थी.

अब में झड़ने वाला था तो मैंने उसे उठाया और कहा कि में अपना पानी कहाँ निकालूँ? तो भूमि ने कहा कि इतना जबरदस्त चोद की पानी मेरी चूत में ही रहना चाहिए, मुझे तेरे बच्चे की माँ बना दे, डाल दे मेरी चूत में तेरे लंड का पानी. फिर जब मेरा पानी निकला तो तब मेरे शरीर में ऐसा करंट लगा मानो जैसे में जन्नत में हूँ और जब मेरा इतना ज़्यादा वीर्य निकला था कि इतना तो कभी मेरे मुठ मारते वक़्त भी नहीं निकाला था. अब हम दोनों बहुत थक गये थे, लेकिन फिर भी हम दोनों की हवस ख़त्म नहीं हुई थी.

अब हम दोनों 69 की पोज़िशन में एक दूसरे को चार्ज कर रहे थे, पहली बार किसी लड़की ने मेरा लंड चूसा था. अब पहले राउंड में मैंने सीधे ही भूमि की चूत फाड़ दी थी. फिर भूमि ने इतना अच्छा लंड चूसा कि 10 मिनट में ही मेरा लंड फिर से फड़फड़ाने लग गया था और मैंने फिर से भूमि की चूत का भोसड़ा बना दिया था. फिर उस रात हम दोनों की चुदाई लगातार 4 बार तक चलती रही, अब भूमि नींद में ही झड़ रही थी और आअहह उउहह ज़ोर जोर से सिसकारियाँ ले रही थी.

फिर सुबह के 5 बजे जाकर मुझे नींद आई. अब भूमि की चूत तो पूरी तरह से बाहर लटक रही थी और अब उससे ठीक से चला भी नहीं जा रहा था. फिर सुबह के 9 बजे भूमि ने मुझे उठाया और कहा कि ब्रेकफास्ट कर लो. अब वो मेरे पास नंगी आई हुई थी, अब उसे ऐसे देखकर मेरा मन फिर से उसे चोदने का हो रहा था. फिर उसने कहा कि तुम सही में बहुत बड़े बहनचोद हो तुमने मेरी चूत बड़ी बेरहमी से फाड़ी है, अभी तो मुझे छोड़ दो और नाश्ता करने चलो.

मैंने कहा कि भूमि नाश्ता तो आज तेरी चूत के रस से ही होगा और मेरा लंड भी बहुत भूखा है. अब भूमि मुझसे बचकर निकल रही थी, लेकिन उसकी चूत के दर्द से वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी इसलिए मैंने उसे पकड़कर सीधा बेड पर लेटा दिया और उसके बूब्स चूसने लगा. फिर भूमि कहने लगी कि अब मेरा बॉयफ्रेंड कभी भी यहाँ पहुँचता ही होगा, प्लीज रोहन अभी नहीं, अगर उसने मुझे तुम्हारे साथ ऐसे देख लिया तो क़यामत हो जाएगी, लेकिन मैंने उसकी एक नहीं सुनी और उसे चोदता रहा और उससे कहा कि फ़िक्र मत कर भूमि तेरा यह बॉयफ्रेंड जब तक यहाँ है कोई भड़वा तुझे हाथ तक नहीं लगा सकता.

अब यह सुनकर भूमि में जोश आ गया था और अब वो भी मेरे लंड पर उछल-उछल कर मेरा साथ दे रही थी. फिर हम दोनों ने दोपहर तक चुदाई की, फिर जब मेरे घर से कॉल आया तो मैंने भूमि को अपने साथ चलने को कहा और में उसे अपने घर ले गया. फिर मैंने अपने पापा मम्मी को उसके बारे में सब बताया और भूमि से शादी करने का फैसला लिया. दोस्तों आज भूमि मेरी बीवी बनकर मेरे साथ है और मेरे पापा मम्मी भी भूमि को बहुत प्यार से रखते है.

प्रिय पाठक, एक अच्छा पाठक एक अच्छा लेखक होता है। यदि आपके पास ऐसा कोई अनुभव है, तो इसे सभी के साथ साझा करना सुनिश्चित करें। यह साइट लिखने के लिए सभी के लिए खुली है। अपनी जीवन कहानी या अनुभव पोस्ट करने के लिए यहां क्लिक करें।

Tags: , , , , , , , , , ,

Comments