Wife Ki Chudai Story – मेरी बीवी बड़े लंड से चुद गयी मेरे सामने

April 9, 2021 | By admin | Filed in: Hindi Stories.
वाइफ की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी बीवी को अपने बड़े लंड वाले दोस्त से अपने सामने चुदवा दिया. मेरे दोस्त ने मेरी पत्नी की चूत फाड़ कर रख दी.

दोस्तो, मैं जय दत्ता फिर से अपनी बीवी की रसीली चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ.
वाइफ की चुदाई स्टोरी के पिछले भाग
मेरे दोस्त ने मेरी बीवी के साथ 69 किया
में अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी संजू ने एक गैर मर्द के हब्शी लंड को हाथ लगाया तो वो सहम गई.

अब आगे वाइफ की चुदाई स्टोरी:

विक्रम बोला- क्या भाभी, जय तो आपकी बहुत बड़ायी करता है. वो कहता है कि आप बहुत सेक्सी हो.
संजू बोली- हां वो तो है … लेकिन सुना है कि आपसे इस हब्शी लंड की वजह से रंडियां भी चुदने में खौफ खाती हैं. मैं तो ठहरी एक कोमल घरेलू औरत.

विक्रम बोला- भाभी, मेरा दोस्त सच कहता है. आज तक मैंने कई रंडियों को चोदा होगा. लेकिन जो बात आप में है … वो किसी में भी नहीं थी. सच में मुझे लगता है आप इसे भी आराम से खा जाओगी.

संजू घबराई सी लंड को सहलाने लगी.

विक्रम बोला- अच्छा आप इसे प्यार से चूसो … आप को खुद ब खुद इससे प्यार हो जाएगा.

संजू ने लंड को बड़े प्यार से देखा और लंड को दो-तीन बार ऊपर नीचे करने के बाद अपने होंठ से लंड का सुपारे को चूम लिया.
एक मादक भाभी के होंठों का स्पर्श पाकर लंड हिचकोले खाने लगा.

संजू की धड़कनें ऊपर नीचे हो रही थीं. वो लंबी लंबी सांसें छोड़ रही थी.
अचानक उसने आंखें बंद की और अपने मुँह को बड़ा सा खोलकर विक्रम के लंड को अपने मुँह में लेने का प्रयास किया.

लेकिन लंड वाकयी में बड़ा था. लंड का सुपारा ही संजू के मुँह में घुस सका था.
वो उसे ही जीभ से चूसने लगी.

विक्रम ने आंखें बंद कर लीं और ‘इस्स … सअअह …’ की लंबी सीत्कार भरी.

उसी समय विक्रम ने पीछे से अपनी एक उंगली को संजू की चूत में घुसा दिया.
इससे संजू चिहुंक उठी. लेकिन वो लंड को चूसती रही.

मैंने देखा कि संजू की चूत से फिर से बेतहाशा पानी की धार निकलने लगी थी.

तभी विक्रम उठा और संजू की आंखों में देखकर उसे पेट के बल लिटा दिया. उसकी दोनों टांगों को ऊपर उठा कर खुद उसकी दोनों टांगों के बीच में आ गया.

अगले ही पल विक्रम ने अपना विशालकाय लंड संजू की चूत में सटा दिया.
संजू ने विक्रम की आंखों में हैरानी से देखा और बोली- क्या मैं सह पाऊंगी?
विक्रम ने कहा- हां भाभी, आप बहुत सेक्सी हो.

तभी संजू ने अपना थूक अपने हाथ में लिया और चूत में पूरा थूक लगा दिया जिससे चिकनाहट और बढ़ गई.

अब विक्रम ने अपना मूसल लंड संजू की चूत में सटाकर आहिस्ता से एक धक्का से दिया. संजू की चूत में चिकनाहट की वजह से उसके लंड का पूरा सुपारा ‘फक्क़ ..’ की आवाज के साथ अन्दर फंस गया.

संजू की चुत की फांकें चिर सी गईं और वो दर्द से बिलबिला उठी.
वो कराहते हुए बोली- आह मर गई … आह प्लीज इसे बाहर निकालो. मुझे ऐसा लग रहा है, जैसे कोई गर्म रॉड को मेरी चुत में डाल दिया है.

पर विक्रम अब लंड निकालने वाला नहीं था. उसने एक और झटका दे दिया जिससे संजू की चूत को चीरते हुए उसका लंड आधा से ज्यादा अन्दर घुस गया.

संजू की आंखों से आंसू निकल आए. वो बुक्का फाड़ कर रोने लगी.

तभी विक्रम ने उसके मुँह में अपना मुँह सटा दिया और उसे चुभलाने लगा.
संजू शांत हो गई.

विक्रम अपना आधा लंड चुत में फंसाए हुए रुक गया.
वो यूं ही लगभग आधा मिनट तक रुका रहा.
इसके बाद वो हरकत में आया और उसने फिर से अपना पूरा लंड बाहर निकाल कर पूरा का पूरा लंड एक ही बार में संजू की चूत में पेल दिया.

संजू जोर से चिल्लाई- उसी मम्मीईईई … मर गई … आह बचाओ.
तभी विक्रम ने फिर से उसके मुँह को अपने मुँह से बंद कर लिया.
संजू फिर से शांत हो गई.

लगभग एक मिनट तक लंड चुत में अपने लिए जगह बनाता रहा.
संजू को भी कुछ राहत मिल गई. ये देख कर कि संजू शांत हो गई है, विक्रम ने लंड को फिर से बाहर निकाला.

मैंने देखा कि उसके लंड पर संजू की चूत फटने से थोड़ा सा खुन लग गया था, जिसे उसने बड़ी चालाकी से संजू से छुपाकर पौंछ लिया ताकि संजू देख कर डर ना जाए.

अब विक्रम ने एक बार में ही अपना समूचा लंड मेरी बीवी संजू की चूत में पेल दिया.

संजू फिर से चिल्लाई- आह मम्मीई … बचाओ इस सांड से … मर गई.

विक्रम ने वैसे ही फिर से उसके मुँह में मुँह डालकर उसे चुप किया और अब उसने धीरे धीरे संजू की चूत में लंड को गोल गोल घुमाना शुरू कर दिया.

इससे धीरे धीरे लंड ने जगह बना ली और चुत फ़ैल गई.
संजू का दर्द भी कुछ कम ही गया और वो जोर जोर से इस्स … आह … ओह मम्मी … आह पापाअअअ … मर गई.’ करने लगी.

लगभग दस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद संजू को भी मजा आने लगा.
वह बोली- चोद साले … मैं भी इस लंड की ताकत को देखूंगी.

वो तकिया पर सर रखकर अपनी चुत में लंड को अन्दर बाहर होते हुए अपनी चुदाई को देखने लगी.

विक्रम का मूसल लंड संजू की चूत को फाड़ते हुए पूरा टाईटली चुत के अन्दर जिस तेजी से जा रहा था … उसी तेजी से बाहर आ रहा था.

संजू की चूत से भलभला कर ऐसे पानी निकल रहा था, जैसे कोई नल लीक हो रहा हो. उसकी चूत के छेद पर सफेद सफेद झाग सा बन रहा था.

फिर विक्रम ने 15 मिनट की चुदाई के बाद संजू को अपनी गोदी में ले लिया और उसकी चुत चुदाई करने में लग गया.

इस तरह से मेरी बीवी की चुदाई को पांच मिनट भी नहीं हुआ था कि संजू उसी अवस्था में पुनः तीसरी बार झड़ गई.

संजू कराहते हुए बोली- यार विक्रम मुझे थोड़ा रिलेक्स तो दो.
मेरी बीवी इस समय पसीना से पूरी तरबतर थी.

विक्रम ने उसकी हालत देखकर उसे बेड पर लिटा दिया और उसकी चूत से लंड निकाला, तो चूत से घप्प की आवाज आई. विक्रम का लंड अभी नहीं झड़ा था.
वो संजू को रिलेक्स देने के लिए वहीं लेट गया.
परंतु थकान की वजह से संजू को नींद आ गई.

मैं भी दुबारा मुठ मार कर दूसरे रूम जाकर सो गया.

लगभग 30 मिनट बाद मुझे कुछ आवाज सुनाई दी.
मैं दौड़ कर उस रूम में गया तो देखा कि संजू विक्रम के लंड पर बैठी है … और अपनी गांड को आगे पीछे कर रही है. इस वक्त विक्रम कामुक आहें भर रहा था.

ये सीन देख कर मैं सोचने पर मजबूर ही गया कि मेरी बीवी मानना पड़ेगा, साली की चुत में क्या आग थी.
वो लम्बे मोटे लंड को हराने के लिए पूरी तरह से जद्दोजहद कर रही थी.

अब संजू बड़े आराम से विक्रम के लंड को अपनी चुत में ले रही थी.

उन दोनों ने मेरे सामने लगभग 30 मिनट तक सेक्स किया.
पूरी चुदाई पांच पोज में हुई. दोनों पसीना से लथपथ हो गए थे.

एकाएक संजू बोली- विक्रम, मेरा निकलने वाला है.
बस वो इसी डॉगी पोज में ही झड़ने लगी.

दो मिनट बाद विक्रम का भी लंड निकलने वाला था.

उसने मेरी बीवी से पूछा- रस कहां निकालूं?
संजू बोली- अन्दर ही आ जाओ.

विक्रम फिर से झटके देने लगा और वो संजू की चूत में बेतहाशा वीर्य रस छोड़ने लगा.
झड़ने के बाद विक्रम निढाल होकर संजू के जिस्म पर ही लेट गया.

लगभग दो मिनट बाद दोनों उठ गए.
संजू की चूत से लंड का बहुत सारा वीर्य निकल रहा था, जो काफी ज्यादा मात्रा में था और बहुत गाढ़ा था.

संजू ने वीर्य को तौलिये से पौंछा और विक्रम के लंड को अपने मुँह से लगाकर उसका बचा हुआ सारा वीर्य चाट गई.

वीर्य लगे संजू के मुँह में ही विक्रम ने किस किया और प्यार से बोला- वाह भाभी आपके जैसी सेक्सी लड़की के साथ सेक्स करके मैं तो धन्य हो गया.

संजू और विक्रम अभी भी पूरी तरह से नंगे थे.
विक्रम का लंड अभी भी पूरी तरह से मुरझाया नहीं था.

संजू उसके लंड को अभी भी चोर निगाहों से देख रही थी.
मैं अभी भी इसी रूम में था.

तभी उन दोनों की नजर मुझ पर गई, तो विक्रम बोल उठा- यार, मैं तुम्हारा और भाभी जी का ये उपकार जिंदगी भर नहीं चुका पाऊंगा.
मैं मजाक में बोल उठा- वो छोड़ भाई … तू बस ये बता कि आज की ये रंडी कैसी लगी?

विक्रम ने उठ कर मेरे मुँह पर हाथ लगाया और बोला- प्लीज, ये शब्द मत बोलो. आज मेरे मन में भाभी के लिए इज्जत और भी बढ़ गई है.

उस समय रात के डेढ़ बज रहे थे. संजू ने नाईटी पहन ली थी. वो बाथरूम से फ्रेश होकर आ गई थी.
वो पूरी तरह से संतुष्ट लग रही थी.

मैंने कहा- अब सोया जाए?
तो विक्रम अपने कमरे में चला गया और मैं और संजू दोनों अपने बेड पर सो गए.

मैंने बेडरूम का दरवाजा खुला ही छोड़ दिया था.

रात के करीब 3 बजे मुझे कुछ आवाज सुनाई दी. मैंने हल्के से आंख को खोल कर देखा, तो देखा विक्रम मेरे कमरे में दाखिल हुआ था. वो मेरी बीवी संजना के पास गया.

संजना अभी गहरी नींद में सोई थी. वो पूरी तरह से बिंदास होकर मेरी तरफ मुँह करके सोई थी.
उसकी नाईटी जो कि काफी खुले गले वाली थी, उस वजह से उसकी आधे से ज्यादा चुचियां बाहर निकलू हुई थीं.
नीचे पैर की तरफ से संजू की नाईटी जांघ तक ऊपर चढ़ी हुई थी.
उसकी मांसल और अति गोरी जांघें स्पष्ट दिख रही थीं.

कुछ देर विक्रम यूं ही उसे प्यार से निहारता रहा, फिर अपने मोबाईल से उसकी कुछ तस्वीरें ले लीं.

उसने संजू की एक चुची को दबाते हुए उसे जगाया; पर संजू नहीं उठी. वो गहरी नींद में सोई थी.

दो-तीन बार प्रयास करने के बाद संजू जगी तो विक्रम को देख कर बोली- क्या हुआ?
विक्रम बोला- बेबी प्यास लगी है.

संजू बोली- तो किचन में जाकर पानी पी लो ना!
विक्रम बोला- नहीं डार्लिंग उसकी प्यास नहीं … मुझे तुम्हारी जवानी का रस पीना है.

संजू बोली- क्या यार … अभी कुछ देर पहले ही तो तुमने मुझे चोदा था ना. मैं काफी थक गई हूँ और मुझे नींद आ रही है.
विक्रम बोला- बेबी, बहुत लंबे समय के बाद मुझे यह मौका मिला है, प्लीज मान जाओ ना.
संजू बोली- अच्छा ठीक है. सुबह कर लेना … अभी जाओ.

विक्रम मुँह लटका कर चला गया.

लगभग 30 मिनट बाद उसने फिर से संजू को जगाया. संजू खीज कर बोली- अब क्या है यार?
विक्रम बोला- बेबी, बर्दाश्त नहीं हो रहा है. प्लीज मान जाओ ना.

ऐसा कहते हुए वो संजू के पैर दबाने लगा और पैर में दो तीन किस भी ले ली.

संजू बोली- क्या यार बच्चे के तरह जिद करते हो.

इतने के बाद विक्रम ने आव देखा ना ताव, संजू को अपनी गोद में उठा लिया और उसे अपने रूम में ले गया.

उसके रूम से संजू के खिलखिलाकर हंसने की आवाज आई.
मैं दबे पांव उसके कमरे के परदे के पीछे से उसे देखने लगा.

संजू की नाईटी पूरी खुली हुई थी और वो पूरी नंगी थी. विक्रम भी पूर्णतः नंगा था. विक्रम का लंड पूरा खड़ा था और झटके मार रहा था.

दोनों खड़े थे.
विक्रम संजू को अपने आगोश में लेकर उसके पूरे जिस्म को चूम और चाट रहा था.
संजू भी मजे ले रही थी और ‘ईस्सस … ईस् …’ कर रही थी.

तभी संजू नीचे झुक गई. वो विक्रम के मूसल जैसे लंड को चाटने लगी और उसके प्रीकम को निगलने लगी.

अब बारी थी विक्रम की सिसकारी निकलने की, वो लंड चुसवाते हुए संजू के बालों को सहला रहा था.

लगभग पांच मिनट लंड चूसने के बाद संजू उठी तो विक्रम उसके मुँह में जीभ डालकर चूसने लगा और उसने मेरी बीवी संजू को बेड पर प्यार से लिटा दिया.

विक्रम ने एक बार बड़े प्यार से संजू की चूत को निहारा, जिसमें चूत से पानी रिस रहा था. विक्रम ने अपना मुँह संजू की चूत में लगा दिया.

अब वो पागलों की तरह चुत को ऐसे चाटने, चूसने और खाने लगा, जैसे किसी कुता को हड्डी मिल गई हो.
संजू ‘आहअअअ … ईस्सस … ओहोअअअ ..’ की आवाजें निकालती जा रही थी.

लगभग पांच मिनट चूत चूसने के बाद विक्रम उठा और बेड पर आ गया.
उसने संजू की चूत में अपना मूसल लंड सटा दिया.
इससे संजू सीत्कार उठी.

अब विक्रम ने धीरे धीरे पूरे लंड को संजू की चूत में घुसा दिया.
संजू पूरा लंड चुत में लेते ही चिहुंक उठी.

विक्रम ने उसी अवस्था में संजू के दोनों पैरों को रिलेक्स देते हुए उसे सीधा बेड पर लिटा दिया और खुद संजू के ऊपर आकर उसे चोदने लगा.

दोस्तो, आपको मेरी वाइफ की चुदाई स्टोरी में मजा आ रहा होगा. इस सेक्स कहानी के लिए आप मेल लिखना न भूलें.
[email protected]

वाइफ की चुदाई स्टोरी जारी है.

Source:

নতুন ভিডিও গল্প!


Tags: , ,

Comments