प्रिंसिपल मैडम की चिकनी चूत- 1

January 10, 2021 | By admin | Filed in: Hindi Stories.

[Dear reader, a good reader is a good writer. If you have any such experience, be sure to share it with everyone. This site is open to everyone to write. Click here to post your life story or experience.]

सेक्सी टीचर चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी क्लासमेट को स्कूल से फरलो मार कर चोदता था. प्रिंसिपल को मुझ पर शक हो गया. उसने पूछताछ की तो …

दोस्तो, कैसे हो आप? उम्मीद करता हूं कि आप सभी ठीक होंगे।
मैं हरजिंदर सिंह एक बार फिर से आप सभी का अन्तर्वासना पर स्वागत करता हूँ।

दोस्तो, आप ने मेरी पिछली कहानी
क्लासमेट की चुदाई
पढ़ी होगी.

जिन्होंने नहीं पढ़ी है वो कृपया पिछली कहानी पढ़ लें।

आप सभी ने मेरी कहानियों को बहुत सराहा.
उसके लिए आप सभी का धन्यवाद।

दोस्तो, यह सेक्सी टीचर चुदाई कहानी मेरी और मेरी प्रिंसिपल मैडम मोनिका (बदला हुआ नाम) की है।
मोनिका की उम्र लगभग 35 साल, हाइट 5.5 फीट और फिगर 36-32-36 था।

उसका रंग दूध के जैसा सफेद था। उनके पति विदेश में रहते थे। मेरी उम्र उस टाइम 19 साल थी।

मेरी और कोमल की चुदाई का खेल चलते हुए लगभग चार पांच महीने हो चुके थे। हम महीने में चार या पांच बार स्कूल बंक करके चुदाई करते थे।

एक दिन मेरी प्रिन्सिपल मैडम ने मुझे अपने दफ्तर में बुलाया और बोली- तुम्हारी अभी छुट्टियां बहुत हो रही हैं, क्या बात है?
मैंने बोला- मैडम जी … घर पर काम रहता है तो छुट्टी कर लेता हूं।

मैडम- पहले तो इतनी छुट्टी नहीं होती थी। जिस दिन तू नहीं आता है, उसी दिन कोमल भी नहीं आती है। ये क्या चक्कर है तुम दोनों का?
मैंने कहा- मुझे उसके बारे में क्या पता मैडम, कि वो क्यों नहीं आती है।

फिर मैडम बोली- मैं कल कोमल के पेरेंट्स को बुलाकर उसके न आने का कारण पूछूँगी।
ये सुनकर मेरे पैरों के नीचे से ज़मीन निकल गई। मुझे लगा कि अब हम दोनों (मैं और कोमल) पकड़े जाएंगे।

मैंने मैडम को रिक्वेस्ट किया कि आगे से हम स्कूल हर रोज़ आएंगे।
मगर मैडम नहीं मान रही थी।

मैंने मैडम को मनाने की हर संभव कोशिश की मगर मैडम कुछ नहीं सुनना चाहती थी.

हारकर मुझे मैडम को मेरे और कोमल के बारे में सब बताना पड़ा।
मैडम मेरी कहानी सुनकर मुझे बोली- मैं तुम दोनों को स्कूल से निकाल रही हूं।

यह सुनकर मैं और डर गया और मैडम को बोला- आप चाहो तो मुझे निकाल दो लेकिन कोमल को आप मत निकालना।
मैं मैडम की आंखों से आँखें नहीं मिला पा रहा था।

मैडम कुछ सोचने के बाद बोली- एक ऑप्शन है।
मैंने पूछा- क्या?
मैडम बोली- रहने दो, तुम नहीं कर पाओगे।

मैंने मैडम को बोला- मैं कुछ भी करने को तैयार हूं. बस आप यह बात किसी को नहीं बताना और कोमल को स्कूल से नहीं निकालना।
मैडम बोली- ठीक है अब तुम अपनी क्लास में जाओ।

मुझे कुछ समझ नहीं आया कि मैडम मुझसे क्या करवाना चाहती है.
खैर उस दिन मैं पूरा स्कूल टाइम टेन्शन में रहा।

स्कूल की छुट्टी से 10 मिनट पहले मैडम ने मुझे दफ्तर में बुलाया.

वो बोली- आज तुम छुट्टी के बाद थोड़ी देर स्कूल के बाहर ही रुकना।
मेरे पास मैडम की बात मानने के इलावा और कोई भी ऑप्शन नहीं था.
मैंने उनकी बात मान ली.

सभी स्टूडेंट छुट्टी के समय स्कूल से निकल गए.
मैं स्कूल में एन्ट्रेंस के बाहर मैडम का इंतज़ार करने लगा।

लगभग 10 मिनट बाद वो आई और मुझे बोलीं- मेरे घर आ जाओ।
मैंने मैडम को बोला कि मुझे उनके के घर का नहीं पता तो मैडम ने मुझे घर की लोकेशन और हाउस नंबर बता दिया।

मैं लगभग 20 मिनट बाद मैडम के घर पहुंच गया।

घर पहुंचकर मैंने डोरबेल बजाई और मैडम ने दरवाजा खोला और मुझे अपने घर के अंदर ले गई।

मैं ड्राइंग रूम में बैठ गया और मैडम किचन में चली गई।

पांच मिनट बाद मैडम कोल्ड ड्रिंक ले आई।
मैंने मैडम को कोल्ड ड्रिंक के लिए मना कर दिया क्योंकि मुझे मैडम की पनिशमेंट के बारे में जानना था।

मैडम ने मुझे बोला- कोल्ड ड्रिंक पी लो, फिर बात करते हैं।
मैंने कोल्डड्रिंक पी ली और मैडम की तरफ देखने लगा कि अब मैडम मुझे वो काम बताएगी।

उसने भी मेरी उलझन को समझते हुए मुझसे कहा- हरजिंदर, तुम्हें वो सब मेरे साथ करने पड़ेगा जो तुम कोमल के साथ करते हो।
मैं मैडम की बात सुनकर शॉक्ड हो गया।

मैंने मैडम को बोला- आप तो शादीशुदा हो और आपकी उम्र मुझसे बहुत ज्यादा है।
मैडम बोली- मेरे हस्बैंड दो साल के बाद दो महीने के लिए आते हैं और उन दिनों में ही मेरी चूत की अच्छे से चुदाई होती है। उनके जाने के बाद मैं तड़पती रहती हूं।

मैडम को मैंने बोला- आप किसी अपनी उम्र वाले को पटा लो!
मैडम बोली- मैं पहले किसी के साथ रिलेशन में थी. उसकी बीवी को पता लग गया तो वो पीछे हट गया।

मैंने मैडम को बोला- मैडम मुझसे यह नहीं होगा।
उन्होंने कहा- मैं खुद ही सब कुछ कर लूंगी।
इतना बोलते ही वो उठकर मेरे पास आ कर बैठ गई और मेरे सिर को पकड़ कर अपनी तरफ खींच कर मेरे होंठों से अपने होंठ सटा दिए।

वो आंखें बंद करके पूरे मज़े से मेरे होंठ चूसने लगी।

थोड़ी देर बाद मुझे भी अच्छा लगने लगा और मैं भी उनके होंठों का रस पीने लगा।

उन्होंने मेरी शर्ट के बटन खोलकर मेरी शर्ट उतार दी।

फिर उन्होंने मेरी बनियान भी उतार दी।
मैंने मैडम को बोला- मेरे ही कपड़े उतारने हैं? आपने अपने नहीं उतारने?

मैडम उठी और उन्होंने अपनी टीशर्ट और लोअर उतार दी।
वो गुलाबी रंग की और पेंटी में थी। वो बहुत मस्त दिख रही थी।

मैडम ने मेरी पैंट और अंडरवियर एक साथ उतार दी।
मैंने मैडम को अपनी तरफ खींच कर अपने होंठ उनकी गर्दन पर सटा दिए.

उन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और वो आहें भरने लगी। वो मेरा पूरा साथ दे रही थी।
मैंने हाथ उनकी पीठ पर ले जाकर उनकी ब्रा की हुक खोल दी. उन्होंने ब्रा निकालने में मेरा साथ दिया।

मैं उनके बूब्स पर टूट पड़ा। मैं उनके एक बूब को मुंह में लेकर अच्छे से चूसने लगा और दूसरे को हाथ में लेकर दबाने लगा।

वो पूरी मस्ती में आ चुकी थी। वो मेरे लन्ड को पकड़ कर सहलाने लगी।

थोड़ी देर बाद मैडम उठी और बेडरूम में चलने को बोलने लगी।
मैं और मैडम किस करते हुए बेडरूम में पहुंच गए।

मैडम ने मुझे बेड पर धक्का दिया और वो मेरे लन्ड पर टूट पड़ी।

अब वो पहले मेरे लन्ड की साइड पर अच्छे से जीभ नीचे से ऊपर की तरफ फिराने लगी।

प्रिय पाठक, एक अच्छा पाठक एक अच्छा लेखक होता है। यदि आपके पास ऐसा कोई अनुभव है, तो इसे सभी के साथ साझा करना सुनिश्चित करें। यह साइट लिखने के लिए सभी के लिए खुली है। अपनी जीवन कहानी या अनुभव पोस्ट करने के लिए यहां क्लिक करें।

Comments